दोस्तों, नीदरलैंड (हॉलैंड) के ‘गिएथूर्न’ नामक यह गाँव, एक प्रसिद्ध पर्यटक स्थल है जो कि दक्षिण का वेनिस या नीदरलैंड का वेनिस के नाम से भी जाना जाता है| यहाँ पर साल भर पर्यटकों की भीड़ लगी होती है, क्यूंकि यह एक सपनों का गाँव है| यह एक ऐसा गाँव है जहाँ की ख़ूबसूरती और सादगी देखकर वहीँ पर बस जाने का मन करता है| 

इस गाँव की सबसे बड़ी खासियत यह है कि यह पूरा गाँव नहरों से घिरा हुआ है| इस गाँव में एक भी गाड़ी या बाइक नहीं है, क्यूंकि इस गाँव में एक भी सड़क ही नहीं है| जिस किसी को भी कहीं जाना हो वह नांव के सहारे ही जा सकता है| यहाँ नहरों में इलेक्ट्रिक मोटर से नांव चलती है और कम शोर होने की वजह से लोगों को शिकायत भी नहीं रहती है| नहरों के एक किनारे से दूसरे किनारे पर जाने के लिए नहर के ऊपर लकड़ी के पूल बनाये गए है| 

साल ११७० के समय एक भयंकर बाढ़ की वजह से इस गाँव में इतना पानी आया था| जिसके बाद साल १२३० में इस गाँव की स्थापना हुई थी| जब लोग यहाँ रहने आये तो उन्हें यहाँ पर बहुत सारे जंगली बकरियों के सींग मिले जो संभवतः साल ११७० की बाढ़ में यहाँ बहकर आयी होगी| इसी वजह से शुरुवात में इस जगह का नाम ‘गेटेनहॉर्न’ पड़ा, जिसका मतलब होता है बकरियों के सींग, जो बाद में जाकर ‘गिएथूर्न’ हो गया| 

इन नहरों के बनने के पीछे की कहानी भी बड़ी दिलचस्प है, जो कि अनजाने में हुआ था| साल ११७० की बाढ़ के बाद जब लोग यहाँ रहने आये तो बाढ़ के कारण इस जगह पर बहोत मात्रा में पिट इकट्ठी हो गयी थी| पिट एक तरह की दलदली मिटटी और वनस्पतियों का मिश्रण होता है, जिसे ईंधन के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है| 
यहाँ आये लोगों ने इस पिट के इस्तेमाल के लिए जगह-जगह उसकी खुदाई करनी शुरू कर दी| इस खुदाई के चलते कई सालों में यहाँ पर नहरों का निर्माण हो गया| उस समय शायद किसी ने सोचा नहीं होगा कि पिट निकालने से बनी ७.५ किलोमीटर लम्बी इन नहरों के कारण यह जगह दुनिया के नक़्शे पर खूबसूरत पर्यटक स्थल के रूप में मशहूर हो जायेगी| 

यह जगह दुनिया के सामने तब उजागर हुई जब यहां साल १९५८ में बर्ट हाँस्त्रा की डच कॉमेडी फिल्म फैनफेयर की शूटिंग की गयी और यह जगह विश्व स्तर पर सबसे मशहूर और खूबसूरत जगह बन गयी| 

दोस्तों, अगर आपको हमारी यह जानकारी अच्छी लगी हो तो कृपया इसे लाइक और शेयर जरूर कीजियेगा और कमेंट बॉक्स में इसके बारे में अपनी प्रतिक्रिया जरूर दीजियेगा।

Loading...